हाइब्रिड फूलों की खेती से पाइये दुगना लाभ

0
32

टोंक। पथरीली जमीन पर फूल उगाकर किसान ने बनाई अन्य किसानों के लिए मिसाल | राजस्थान में स्थित्ब बूंदी व भीलवाड़ा जिलों की सीमा पर बसे भवानीपुर गांव के किसान ने हायब्रिड फूलों की खेती की। एक बीघा में हाइब्रिड फूलों की खेती कर 25 से 30 हजार रुपये तक की आमदनी पाई है।

 

कृषि अधिकारीयों के सहयोग से वह पहाड़ों के बीच फूलों की खेती करने में सफल हो पाया। किसान मस्त राम ने करीब दस बीघा में फूलों की खेती की के साथ साथ चन्दन,नाशपाती, सेब, रुद्राक्ष, कटहल आदि के भी पौधे लगाए है। मस्तराम को देखर अन्य गांव के किसानों ने भी फूलों की खेती को अपनाकर आमदनी के लिए एक और मार्ग खोल दिया है।

 

किसानों के अनुसार हाइब्रिड फूलों की बुवाई जुलाई से आरम्भ होती है। बुवाई के डेढ़ माह बाद पौधों पर फूल आने शुरू हो जाते है। एक बीघा में लगभग ढाई हजार पौधे लगाए जाते है। इन पर प्रति सप्ताह दो क्विंटल फूल तैयार होने के बाद तोड़े जाते है। इनसे लगभग 4 से 5 हजार की आमदनी प्रति सप्ताह होती है। मस्तराम के अनुसार हाइब्रिड फूल 25 से 30 हजार रुपये प्रति किलोग्राम के हिसाब से बिकते है। इसमें लागत भी कम होती है। यह खेती लगभग छह माह तक आमदनी देती है इनके हाइब्रिड बीज कर्नाटक राज्य के बंगलुर व मध्य प्रदेश के रतलाम में तैयार होते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here