MSP में 200 रू. से लेकर 1800 रू. तक की बढोतरी

0
79

चंडीगढ़| किसान सिर्फ अन्नदाता ही नहीं है बल्कि उनका राजनीतिक महत्व है। इसे समझते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पंजाब के मलोट में 11 जुलाई को एक किसान सभा को संबोधित किया और कहा कि हमारी सरकार ने फसलो के न्यूनतम-समर्थन-मूल्यों (MSP) में 200 रूपये से लेकर 1800 रूपये तक की बढोतरी की है। न्यूनतम समर्थन मूल्यों में वृद्धि के बाद प्रधानमंत्री मोदी पहली बार किसी किसान सभा को संबोधित कर रहे थे।

पंजाब कृषि प्रधान राज्य है। वहां उन्होंने कहा कि :

– सीमाओं की रक्षा हो, खाद्य सुरक्षा हो या फिर श्रम उद्यम का क्षेत्र हो पंजाब ने हमेशा से देश को प्रेरित करने का काम किया है। पंजाब ने हमेशा खुद से पहले देश के लिए सोचा है।

– पिछले 4 साल में जिस प्रकार से देश के किसानों ने रिकॉर्ड पैदावार करके अन्न भंडारों को भरा है उसके लिए मैं देश के किसानों को नमन करता हूँ।

– हमारी सरकार ने MSP का अपना वादा पूरा किया है, लागत का डेढ़ गुणा मूल्य सुनिश्चित करने का काम हमारी सरकार नी किया है।

– जब से सरकार ने ये फैसला लिया है, तबसे देश के किसान की एक बहुत बड़ी चिंता दूर हुई है। उसको विश्वास है कि जो निवेश उसने किया है, जो श्रम लगाया है उसका फल उसे मिलेगा।

– हमारी सरकार 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने के लिए प्रतिबद्ध है। देश में अभी तक 15 करोड़ से ज्यादा #SoilHealthCard वितरित किए जा चुके हैं

– किसान की फसल बर्बाद ना हो इसके लिए प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना चला रही है। देश भर में नए गोदाम बनाए जा रहे हैं, फूड पार्क बनाए जा रहे हैं। पूरी सप्लाई चेन को मजबूत किया जा रहा है और ये सुनिश्चित किया जा रहा है कि किसान को उसकी फसल नष्ट होने की वजह से नुकसान न उठाना पड़े।

 

एमएसपी बढाने से किसानों को राहत मिलेगी। न्यूनतम समर्थन मूल्य बढने से किसान खुश है। हालांकि अभी उनकी कई बुनियादी मांगो की ओर ध्यान देने की जरूरत है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here